जिंदगी जीने का सही तरीक़ा

जिंदगी बहुत ही जटिलता और उतार चढ़ाव से भरी हुई है। जिंदगी में दुःख भी है और सुख भी असल मे सुख और दुख एक दूसरे के पूरक है। अगर आप सुख और दुख के बीच में संतुलन बना लेते है अपनी जिंदगी को पूरी तरह से खुलकर जी सकते है। जिंदगी हमे जीने के लिये बहुत से अवसर देती है। जिंदगी से खुशी का मौका एक बार हाथ से निकल जाने का मतलब यह नहीं है कि ऐसा मौका फिर नहीं मिलेगा। दरअसल हम खुद ही मान लेते हैं कि इससे अच्छा हमारे लिए कुछ नहीं तो तथा यह सच हो जाता है। कुछ इस तरह से हम आने वाले अफसरों को स्वयं ही ठुकरा देते हैं।

खुशी मन की अवस्थाएं सभी चाहते हैं कि उनका जीवन खुशियों से भरा रहे और वह अपनी जिंदगी खुशी से जीये। एक खुशहाल जिंदगी बिताएं हमेशा खुश रहे। कोई नहीं चाहता कि उनके जीवन में कोई परेशानी आए लेकिन जीवन में सुख और दुख निरंतर चलते रहते हैं। कभी खुशी कभी गम का सामना करना ही पड़ता है। मगर कुछ बातें ऐसी भी हैं जिन्हें अपनाकर आप जिंदगी खुशी से जी सक ते हैं। इंसान को सिर्फ दुख मिलते हैं और जब दुख खत्म हो जाते हैं तो सुख आ जाते हैं। इंसान के जीवन में यह दोनों आते जाते रहते हैं अगर आप जीवन में दुखो का सामना नहीं करेंगे तो आप सुखी नहीं रह सकते और अगर आप खुश रहना चाहते हैं तो आपको कुछ कष्ट तो झेलने ही होंगे।

जिंदगी कैसे जिये?

कुछ लोग जब उनका दुखों से सामना होता है तो बर्दाश्त नहीं कर पाते और अपनी किस्मत को दोष देते हैं मेरी किस्मत में सुख है ही नहीं जबकि सुख और दुख सभी के लिए बराबर आते हैं। ऐसे लोगों के लिए इस पोस्ट में कुछ बातें बताने वाला हूं जिन्हें अपना कर सभी अपनी जिंदगी बहुत अच्छी तरह से जी सकते हैं। तो दोस्तों अगर आप भी यह जानना चाहते हैं कि हम अपनी लाइफ किस प्रकार से जिये तो हमारे इस आर्टिकल को पूरा पढ़े।

हम सब जानते हैं कि एक दिन सभी को मरना है फिर भी हम किसी ना किसी बात को लेकर दुखी रहते हैं अरे उनकी तरह बनो और जिंदगी जियो जो रोते हुए जन्म लेते हैं और हंसते हुए इस दुनिया को अलविदा कहते हैं। हम आपको जिंदगी जीने के कुछ महत्वपूर्ण टिप्स बताने जा रहे हैं आप हमारे टिप्स कौन ध्यानपूर्वक पढ़ें तथा अपने जीवन में उपयोग करें।

अपने हर पल को खुलकर जिए

जिंदगी एक अनमोल तोहफा है। जो हमें बड़ी हसरत से मिलता है इसे यूं ही ना गवाएं अपना हर पल हर दिन ऐसे जियो जैसे आपको आज जिंदगी मिली है और आप अभी जीना शुरु कर रहे हैं। क्योंकि जिंदगी चार दिन की होती है इसमें भी अगर हम खुशी से नहीं दिए तो जिंदगी का क्या फायदा इसलिए अपनी जिंदगी को अपने हिसाब से खुलकर अपनी मर्जी जिये।

चिंता ना करें

चिंता इंसान को अंदर ही अंदर खाती रहती है और एक दिन उसे जिंदा लाश चिता बना देती है। कहते हैं ना चिंता चिता के समान होती है आपने यह बात पहले भी कई बार सुनी और पड़ी होगी यदि आप अपनी जिंदगी खुशी से जीना चाहते हैं तो सबसे पहले चिंता करना बंद करें व्यर्थ में सोचना बंद करें।

दुसरो की सहायता करें

दूसरों की सेवा करना खुशी का एक अच्छा स्रोत है इसलिए स्वयं सेवा करें । किसी और के जीवन में योगदान दें आपने सुना होगा कि जितनी खुशी दूसरों की मदद करने से मिलती है उतनी खुशी खुद की सहायता करने से भी नहीं मिलती इसलिए हमेशा जब भी आप किसी को परेशानी में देखे आपको लगे कि सामने वाले को आपकी जरूरत है तो उसकी सहायता अवश्य करें इससे आपको बहुत ही ज्यादा खुशी मिलेगी और आप जिंदगी में बहुत सुकून महसूस करेंगे।

हमेशा हंसते रहे

हंसने में कोई पैसा खर्च नहीं होता आप जब चाहे मुस्कुरा सकते हैं इससे दूसरों के चेहरे पर भी हंसी आ सकती है। हंसते रहें अगर आपको हंसी नहीं आती है तो आदत बना ले दिनों में आप खुद को बेहतर महसूस करेंगे क्योंकि खुशी में तो हर कोई हंसता है लेकिन दुखी होने के बावजूद हंसना मुस्कुराना हर किसी के बस की बात नहीं है।

इसलिए आप कभी भी कितना भी परेशान हूं किसी को दिखाने की जरूरत नहीं है कि आप परेशान हैं। हमेशा मुस्कुराते रहिए क्योंकि जब आप हमेशा मुस्कुराएंगे हमेशा खुश रहेंगे हंसते रहेंगे तो दुख परेशानी अपने आप आपके पास से कहीं दूर चली जाएगी और आप हमेशा जिंदगी में प्रसन्न रहेंगे।

दुसरो से प्यार करें

जो आपको पसंद है वह काम करें इससे आप खुशी महसूस करेंगे यदि आपका कोई दोस्त है या आपकी लाइफ में कोई है तो उसके साथ समय बिताये। प्यार करें, आपने देखा होगा कि प्यार करने वाला आदमी कभी दुखी दिखाई नहीं देता है। अगर किस्मत को बदल नहीं सकते तो कम से कम उन खुशियों को महसूस कर सकते हैं उनका तो जी भर के अपने जीवन में स्वागत करें।

क्योंकि जब तक हम छोटी-छोटी किसी का नाम नहीं लेंगे तो जाए रे बड़ी खुशियां भी हमसे मुख मोड़ कर जा सकती है लेकिन यह बात भी सही है जब तक हम वक्त ही बुरा चल रहा हो तब तक हम खुशियों को कैसे महसूस करेंगे हमारी आंखों के सामने ही जब बहुत पूरा स्थिति खड़ी हो ऐसे में हम अपनी जिंदगी को कैसे अच्छा मान सकते हैं लेकिन वक्त हर समय एक पैसा भी नहीं रहता इसलिए वक्त के साथ हमें अपनी सोच बदल लेनी चाहिए

सकारात्मक रहे

आप जानते है कि नकारात्मक सोच तनाव का कारण है अच्छा पता ही है तो सकारात्मक रहे और नकारात्मक विचारों को सकारात्मक लोगों के साथ बदलने की कोशिश करें। नकारात्मक लोगों के साथ समय व्यतीत ना करें खुद की सोच को बदलें अपने दिमाग पर नियंत्रण रखें। अच्छा-अच्छा सोचे और अपनी जिंदगी सुकून से जीये।

अच्छी जगह पर घूमे

जो जगह आपको अच्छी लगती है वहां जाय और घूमे इससे आप खुशी महसूस करोगे। अपने स्थानीय जंगल या पार्क में चले जाय औऱ थोड़ी ताजा हवा में रहें।

क्रोध ना करें क्षमा करें

किसी भी स्थिति में गुस्सा ना करें, आपको तो पता ही होगा की गुस्सा आदमी को जलाता है। गलती तो सब से होती है यदि किसी से गलती हो जाय तो उसे डांटे नही बल्कि माफ करें ऐसा करके आप खुशी महसूस करोगे।

वर्तमान में जीना सीखें

अधिकतर लोग अपने अतीत में जीते है लेकिन अगर आप खुशी से जीवन जीना चाहते है तो भविष्य के बारे में ज्यादा मत सोचो सिर्फ अपने आज यानि वर्तमान में जिओ औऱ अपने हर पल को खुशी से जिओ। अगर अतीत में जीना है तो उन बातों को याद करें जो आपको खुशी दे। हमारा बीता हुआ कल कैसा था और आने वाला जीवन कैसा होगा इसके बारे में हम क्यों विचार करें जबकि हमारे पास हमारा आज मौजूद है यदि बीते कल और आने वाले कल की चिंता मन में लगी रहेगी।

तो हम अपना आजकल कभी महसूस नहीं कर पाएंगे क्योंकि यह आज धीरे-धीरे बीत जाएगा और बीता हुआ समय बन जाएगा जिससे हमने बिल्कुल भी खुशी से अपनाया नहीं था फिर हम दोबारा से बीते हुए पूरे कल को याद करके दुखी होंगे इसलिए उस समय की कद्र करें जो हमारे पास है आप वाकई खुश रहेंगे।

अपने प्रिय जनों के साथ समय बिताए

खुशमिजाज लोग हमेशा अपने दोस्तों और परिवार के साथ हँसते हुये वक्त बिताते दिखाई देते है आप भी अपने दोस्तों प्रियजनों के साथ समय व्यतीत करें और अपने विचार उनके साथ साझा करें आपने सुना होगा कि अपना दुख दुसरो को बताने से कम हो जाता है। इसलिए जब भी कोई परेशानी हो अपने फैमिली और फ़्रेंड्स को जरूर बताएं।

खुश रहने के हर आदमी के अलग अलग तरीके है कुछ सोचते है कि मेरे पास अच्छा घर और एक कार होती तो मैं खुश रहता। लेकिन ऐसा नहीं है मेरा मानना यह है की खुशी आपकी सोच और जीवन के प्रति रवैया में थोड़ा बदलाव करके आप अपने जीवन में खुश रहे सकते है।

बुरी चीजों पर फोकस करना बंद करें

आपकी लाइफ में जो भी खराब चीजे हो चुकी है उन पर फोकस करना बंद करें बल्कि जो अच्छा किया जा सकता है उस पर फोकस करें । अपना ध्यान इस ओर लगाये कि आप अपने और दूसरों के लिए चीज़ों को बेहतर बनाने के लिये क्या कर सकते हैं। ऐसा करने से आप जीवन जीने के लिए श्रेष्ठ स्वतंत्रता खोज लेंगें। अपनी सफलताओ को याद रखने की बजाय खुद की सफलताओ को याद रखें। अगर आपका काम या स्कूल उतना अच्छा नही चल रहा जितना हो सकता है अपनी फैमिली और अपने रिस्तेदारो पर फोकस करे।

ईमानदार रहे

झुठ आपको छल के जाल में फंसता जाता है जिससे आप खुलकर नही जी पाते। खुद से दूसरों से बोले जाने बाले झुठ को पहचाने । भरोसेमंद इंसान बनने से आप उन लोगो से जुड़ सकते है। जिन पर आप भरोसा करते है क्योंकि बो आपकी भेघता ( valnerability) को पहचान सकते है।

वे चीजें बनाएं जिन्हें बनाने पर आप अच्छा महसूस करते हैं। अपने जुनून को खुद में भरकर आप को लोगों के सामने खुद को अच्छा साबित नहीं करना है बल्कि अपने जुनून अपने पसंद से प्यार करना है चाहे जो भी हो इसे दिल से अपनाया और इसमें खुद को पूरी शिद्दत के साथ शामिल करें।

इसके बारे में अपने परिवार को बताएं अपने दोस्तों को इसे करने के लिए बनाए और अपनी जिंदगी को उन चीजों के इर्द-गिर्द घूमने दे जिसे आप प्यार करते हैं। उसके बाद देखिए आपकी जिंदगी कितनी हसीन हो जाती है।

कुछ समय धूप में बताएं

सूर्य की रोशनी दिन को चमकाने के साथ ही आपके मूड को भी बेहतर बना सकती है। खुले स्थान पर जाएं थोड़ी टहले प्रकृति का आनंद ले और लोगों के बीच समय बिताये है। गर्मियों के दिनों में सूर्य की हानिकारक किरणों से बचने के लिए सुरक्षा भी अवश्य अपनाएं।

दोस्तों के साथ समय बताएं

दोस्तों के साथ आप थोड़ा समय अवश्य विताये। दोस्तों को अपनी बातें शेयर करने से कुछ चीजों को समझने से आपका स्वास्थ्य भी सुधर सकता है। इससे डिप्रेशन से निकलने में भी मदद मिलती है । साथ ही दोस्तों के साथ समय बिताने से और सामाजिक पर सेरोटोनिन का स्तर बढ़ जाता है जो आप के आर्थिक स्वास्थ्य को सुधारने के लिए बहुत जरूरी है।

जितना हो सके कुछ ना कुछ नया करते रहे

ऐसा माने जैसे कि आप की हर रोज की जिंदगी में आपको एक बैकग्राउंड म्यूजिक मिल गया- नए अनुभवों को दिल खोलकर स्वीकार करना स्वतंत्रता का स्रोत है क्योंकि आप अपने क्षेत्र को विस्तृत करते हैं। छुपी हुई नई प्रतिभाओं को खोजते हैं और जीवन के अच्छाइयों को दिल खोलकर आत्मसात करते हैं।

किसी चिंता या भार को अनुभव करने की बजाय नए अनुभवों को मौकों के रूप में देखे किसी नई गतिविधि को करने से पहले अधिकतर जंग तो सिर्फ आपके दिमाग के अंदर ही चलती है। हर बार कुछ भी नया करने पर खुद को बधाई दें और इस अच्छे काम को फैलाने के लिए दूसरों को भी बताएं कि आपने कुछ नया करने की कोशिश की है आप की कहानी से दूसरों को भी प्रेरणा मिलेगी और दूसरे लोग भी अधिकतर खुलकर अपना जीवन जी सकेंगे।

कुछ चौका देने वाला या स्वाभाविक लगने वाला काम करें

काम की भागदौड़ बड़े होने पर बच्चों के स्कूल में प्रवेश करते हुए और सामाजिक जिम्मेदारियों का बोझ उठाते उठाते अपनी जिंदगी जीना भूल जाता है । जिससे सुनिश्चित करें कि सोसाइटी में हर व्यस्क व्यक्ति आज जीत खोल कर जीने के मौके पाने के लिए क्या अपेक्षा रखता है और उसके बाद अपने दायरे से बाहर निकलकर कुछ करें अपने जीवन में थोड़ी स्वच्छता और आवेग को बहाल करने से आपके जीवन में फिर से संतुलन वापस आ सकता है। कुछ मजेदार और हास्यप्रद चीजें खोजने के लिए ऑनलाइन कुछ फ्लैश मोब वीडियो देखें।

व्यायाम करें

बाहर निकले और टहलना शुरू करें बिना किसी विशेष दिशा के चलते रहे और जब तक आपका मन रुकने को ना कहें ना रुके। अपने दिमाग से सारी परेशानियों को निकालकर टहलना बहुत अच्छा होता है तथा एक्सरसाइज करने से शरीर से जो पसीना निकलता है। वह मुड को बेहतर बनाता है और मन को इस टाइम अच्छा लगता है।

जिससे आप अपने काम को ठीक प्रकार से कर सकें इसलिए अपनी सेहत से समझौता ना करें ऐसे काम को चुनें जिससे आपको आनंद आए इसी प्रकार काम करना भी काफी मजेदार होगा अगर आप इसे अन्यथा ना लें।

स्वयं से प्रेम करें

सबसे पहले स्वयं से प्रेम करें। अपने लिए जिए ना कि दूसरों के लिए आपको कोई इतना खुश नहीं कर सकता जितना कि आप स्वयं को कर सकते हैं । हमेशा पैसे के लिए ही काम मत करें धन अपेक्षाकृत महत्वहीन है । आपका धन आपकी खुशी से मापा जाता है ना कि आपके बैंक बैलेंस से । हमेशा जिंदगी में कुछ ना कुछ सीखते रहे अगर सीखना छोड़ देंगे तो जिंदगी में हमेशा असफलता का सामना करना पड़ेगा।

जितना संभव हो सके दूसरे की गलतियों को माफ करते रहिए। अगर कोई जानबूझकर आपको नीचा दिखाना चाहता है तो उससे किनारा कर ले ऐसे व्यक्ति से उलझना बेवकूफी है। हमेशा याद रखेंगे जीवन में आगे क्या होने वाला है यह कोई भी नहीं जानता प्रेम जिंदगी का सबसे महत्वपूर्ण तोहफा है यह भी आपकी जिंदगी में प्रेम नहीं है तो आपकी जिंदगी लगभग अर्थहीन है। प्रेम का अर्थ पाना नहीं बल्कि बिना स्वार्थ के देना है।

समय आपकी सोच से भी तेज गुजर जाता है इसका सावधानी से इस्तेमाल करें। जिंदगी में कुछ बातों को सीखा नहीं जाता उन्हें सिर्फ उनका ही किया जाता है ज्यादा सुनना और कम बात करना सबसे बेहतर है।

अपने मन मे किसी के लिए नफरत न रखे जिंदगी का नाम है प्यार और अपनेपन के साथ जीने का है। अपने मन में किसी के लिए नफरत ना रखें सबसे प्यार और अपनापन रखें तभी आप अपनी जिंदगी को फुल एंजॉय कर पाएंगे और पूरी तरह से जी पाएंगे।

अपनों के साथ जीने में लाइफ की सबसे बड़ी खुशी है तो जितनी जिंदगी जिंदगी है हमेशा अपनों को छोड़कर और अपनों के साथ दिए जिंदगी से खुश रहने का नाम नहीं है बल्कि खुश रखने का भी नाम इसलिए जितना हो सके अपने आसपास के लोगों को खुशियां बांटने की कोशिश करें। याद रखिए दूसरों की खुशियां देने से आप का भी एक अपना ही मजा है

अपने कौशल पर काम करें

अगर लोग आप से चुप रहने के लिए कहे तो हतोत्साहित न हो इसकी बजाय जब तक आप यह ना जान जाए कि संभवत हर प्रकार के दशक के सौदागर के लिए आपके उत्साह के बीच कैसे संयोजित होती है। तब तक अपने प्रस्तुति पर कौशल पर काम करें हमें वीरता की और अपनी ऊर्जा के स्तर को बढ़ाते जाए इसे आप ऊर्जावान बनेंगे और खुलकर जीने लगेंगे क्योंकि आप सुस्ती और प्रतिरोध अनुभव नहीं करेंगे।

थके हुए लोग विकल्पों को हमेशा की तरह बना देते हैं क्योंकि विरोध करने के लिए ऊर्जा की जरूरत होती है और यथास्थिति का मतलब है कि वह स्थिर बने रहते हैं। अगर आपको कोई चीज पसंद ना आए तो अन्य लोगों को विनम्रता पूर्वक बताएं लेकिन इस पर झूठ की चादर ना डालें अधिकार समय इस प्रकार से बोला गया झूठ बाद में जब पलट कर आप पर वापस आता है तो आपको अपमानित होना पड़ता है।

सामान्यतः लोग आपके सोच से अधिक बलवान होते हैं बल्कि आप के पॉइंट को जानने के लिए भी आपके साहस के बारे में धीरे-धीरे बातें भी करते हैं अगर यह अधिक गहराई वाली बात हो तो यह जानते हुए भी आपके साथ खड़े होने पर आप का सम्मान करेंगे खुलकर जीने का मतलब यह बिल्कुल नहीं कि आप कानून के दायरे से बाहर निकलना नही है।

निष्कर्ष

अपने जीवन को खुलकर कौन जीना नहीं चाहता लेकिन हमारे जीवन में जब कुछ दुख आ जाते हैं तो हम उन्हें अपने जीवन से निकाल नहीं पाते इस कारण हम खुलकर अपना जीवन नहीं जी पाते। इसलिए हमने आपको बताया है कि जिंदगी कैसे जिए? दुख और सुख तो सभी के जीवन में आते हैं लेकिन इस दुख के समय में हमें अपनी जिंदगी खुलकर जीनी चाहिए जिस प्रकार हम सुखी के समय में अपना जीवन जीते हैं।

Leave a Comment